फर्रुखाबाद में भंसाली का पुतला जलाकर फिल्म पद्मावती का जबरदस्त विरोध

फर्रुखाबाद :- पद्मावती फिल्म के विरोध में अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने मंगलवार को फर्रुखाबाद कलक्ट्रेट गेट के बाहर फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली का पुतला फूंककर विरोध जताया। उन्होंने प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट जेके जैन को सौंपकर फिल्म को प्रतिबंधित करने की मांग की।
महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वीरेंद्र सिंह ने कहा फिल्म पद्मावती का विरोध राजस्थान में ही नहीं, बल्कि मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश आदि राज्यों में हो रहा है। फिल्म में तथ्यों के साथ छेड़छाड़ की गई है। संगठन मंत्री डीएस राठौर ने कहा रंगमंच कारोबार अपने निजी हितों के कारण राष्ट्रीय, ऐतिहासिक, सांस्कृतिक और सामाजिक विरासत को प्रभावित करने का काम कर रहा है। पद्मावती फिल्म में भी ऐसा ही किया गया, जो क्षत्रिय समाज बर्दाश्त नहीं करेगा। उन्होंने कहा पद्मावती फिल्म से काल्पनिक एवं भ्रामक प्रसंगों को तत्काल हटा देना चाहिए और इससे अच्छा तो यह है कि फिल्म पर ही प्रतिबंधित लगा दिया जाए। उन्होंने कहा अगर इस ओर ध्यान न दिया गया तो क्षत्रिय समाज आंदोलन करने को मजबूर होगा। इस अवसर पर राघवेंद्र सिंह भदौरिया, अवनीश सिंह तोमर, उदय प्रताप सिंह राठौर, भूपेंद्र प्रताप सिंह, मुकेश सिंह राठौर, दिनेश पाल सिंह, जितेंद्र चौहान, राम बहादुर सिंह, मनीष चौहान, रमेश सिंह भदौरिया, अरुण तोमर और नितिन चौहान आदि मौजूद रहे।
error: Content is protected !!